हनुमान जयंती - मंगलवार, २७ अप्रैल २०२१ ********** Hanuman Jayanti - Tuesday, 27 April 2021
Reserved Space

When is Hanuman Jayanti in 2021? २०२१ में हनुमान जयंती कब है?

 



Hanuman Jayanti 2021: हनुमान जयंती के बारे में कुछ जानकारी

हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti) हर साल चैत्र पूर्णिमा (chaitra Purnima) के दिन बड़ी धूम धाम से मनाई जाती है। सन २०२१ में हनुमान जयंती मंगलवार, २७ अप्रैल २०२१ को मनाई जाएगी। 
हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti) का दिन हनुमान जी के भक्तों के लिए बहुत ही खास और संस्मरणीय दिन होता है क्योंकि इसी दिन भगवान राम भक्त हनुमान जी (Ram Bhakt Hanuman ji) का जन्म हुआ था।  पुरे देश में हनुमान जयंती (Hanuman Jayantiबड़ी धूम धाम से मनाई जाती है।
 लेकिन हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti)के दिन को लेकर अलग अलग जगह पर अलग अलग मान्यताएं है।  देश में बहुत सारे स्थान पर हनुमान जयंती चैत्र पूर्णिमा के दिन ही मनाई जाती है जो इस साल २७ अप्रैल २०२१ में आ रही है। 
हनुमान जी का जन्म मंगलवार के दिन सूर्योदय के तुरंत बाद हुआ था।चैत्र पूर्णिमा का हनुमान जयंती में विशेष महत्व है। 
इस साल चैत्र पूर्णिमा की स्थिति इस प्रकार रहेगी। 
पूर्णिमा आरम्भ - २६ अप्रैल २०२१  १२:४४ 
पूर्णिमा समाप्त - २७ अप्रैल २०२१ ०९:०१ 

Hanuman Jayanti 2021 - हनुमान जयंती पूजा विधि 

हनुमान जयंती के दिन बहुत सारे श्रद्धालु हनुमान जी की प्रतिमा की पूजा करते है। इस दिन व्रत रखने से विशेष लाभ मिलता है। हनुमान जयंती के दिन आप किसी भी हनुमान मंदिर जा कर हनुमान जी की प्रतिमा को पुष्प अर्पण करें साथ ही किसी मीठी चीज का भोग भी लगाएं। हनुमान जी को लाल वस्त्र बहुत ही पसंद है इसलिए किसी लाल वस्त्र का दान करे। पूजा के बाद प्रसाद भक्तों में बांट दे। 

Hanuman Chalisa Siddhi - हनुमान चालीसा सिद्धि

बाकि सारे मन्त्रों  के तुलना में हनुमान चालीसा  सिद्ध करना बहुत ही आसान है। अगर आपने ये मंत्र (Mantra) सिद्ध कर लिया तो आप बहुत सारी शक्तियों के मालिक बन सकते है। हनुमान चालीसा सिद्धि आपको सिर्फ हनुमान जयंती पर ही करनी चाहिए। अगर हनुमान जयंती मंगलवार या शनिवार को आती है तो अति उत्तम। 
हनुमान जयंती के दिन ब्रह्म मुहूरत (Brahma Muhurat) पे उठके स्नान करना चाहिए। उसके बाद किसी भी लाल वस्त्र पे हनुमान जी (Hanuman Ji) की प्रतिमा को रखकर पूजा करे। फिर हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) के १०८ जाप करे। इस विधि से हनुमान चालीसा सिद्ध हो जाती है।

Click HERE to get Hanuman Chalisa PDF 
Click HERE to get Hanuman Chalisa in Hindi online